लेसर प्रौद्योगिकी प्रभाग

लेसर प्रौद्योगिकी प्रभाग का अधिदेश उन्नत ठोस अवस्था लेसर और इसके अनुप्रयोगों के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास के कार्यों को आगे बढाना है। यह प्रभाग विभिन्न प्रकार के ठोस अवस्था लेसरों के अनुसंधान और विकास के काम में लगा हुआ है जो उच्च ऊर्जा से लेकर उच्च शक्ति, सतत तरंग से लेकर अति लघु स्पंद और संकीर्ण लाइनविड्थ के लेसर विशेष अनुप्रयोगों के लिए प्रदान कर सकता है। विकसित तकनीक अभियांत्रित की जाती है और दृढ लेसर बनााए जाते हैं जो औद्योगिक वातावरण में काम कर सकते हैं।

यह प्रभाग विभिन्न अत्याधुनिक गतिविधियों में लिप्त है जैसे कि (१) परमाणु रिएक्टरों के नवीनीकरण के लिए पदार्थ प्रक्रमण संसाधन (२) फ्लैश लैम्प और लेसर डायोड द्वारा पम्पित ठोस अवस्था लेसर के विकास (३) तन्तु लेसर (४) लेसर योज्य विनिर्माण (५) प्लाज्मा भौतिकी के लिए नैनोसेकंड स्पंद में उच्च ऊर्जा (१०० जूल) का लेसर (६) व्यतिकरणीय गुरुत्वाकर्षणीय तरंग संसूचक (७) विशिष्ट प्रकाशीय परत और (८) अत्याधुनिक परिष्करण और लक्षण वर्णन की सुविधा।

प्रभाग के अधिदेश को पूर्ण करने के लिए, प्रभाग की संरचना निम्नानुसार है:


अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें:

डॉ. के. एस. बिंद्रा
प्रमुख, लेसर प्रौद्योगिकी प्रभाग
फ़ोन: +91-731-2442317(दफ्तर)
ईमेल: bindra (at) rrcat.gov.in

विषय प्रबंधक: डॉ. सी. पी. सिंह
ईमेल: cpsingh (at) rrcat.gov.in  
सर्वोतम नज़ारा १०२४ x ७६८